पद्मनाभस्वामी मंदिर के सातवाँ द्वार का रहस्य Padmanabhaswamy Temple Mystery

Padmanabhaswamy Temple Mystery in hindi

Padmanabhaswamy Temple Mystery Behind The Sealed Door: दोस्तों भारत में आपको प्राचीन से प्राचीन अनेकों मंदिर देखने को मिल जाएंगे। इनमें से कई मंदिर तो आज भी वैज्ञानिक रिसर्च से काफी दूर हैं। और जिन मंदिरों पर वैज्ञानिक ने रिसर्च की भी है, उसने भी सबका सर चकरा कर रख दिया है। कई लोगों के मन में जरूर इसके खिलाफ शंका होगी, लेकिन फिर भी उनके पास वैज्ञानिकों की ही तरह कोई भी जवाब नहीं होगा। तो आज हम आपको अपनी इस पोस्ट में बताने वाले हैं… एक ऐसा ही मंदिर के तहखाने का रहस्य के बारे में, Padmanabhaswamy Temple Mystery जिसे वैज्ञानिक भी नहीं खोल पा रहे हैं। और ना ही उसका रहस्य सुलझा पा रहे हैं।

भानगढ़: एक राजकुमारी की खूबसूरती ने कर दिया इसे तबाह

दोस्तों पद्मनाभस्वामी मंदिर जो कि केरल में स्थित है। उस के तहखाने की खबर कुछ साल पहले काफी सुर्खियां बन गई, लेकिन इसे खोलने की कोशिश साल 1931 से शुरू हो गई थी। दरअसल ‘मिश्र हज’ ने साल 1931 में एक  किताब लिखी थी, जिसका नाम था ‘Guide To Travancore’ इसमें बताया गया था, कि जब पद्मनाभस्वामी मंदिर के कोबरा वाले तहखाने को खोलने की कोशिश की गई, तब उसमें से कई जहरीले सांप निकल कर बाहर आए। और सब को उसे छोड़कर भागना पड़ा। और उन सब लोगों ने अगले कई सालों तक यह दावा किया कि उन सांपों ने उनका हर जगह पीछा किया हो, इसके अलावा और भी कई किताबों में  इस तहखाने के बारे में जिक्र किया गया है।

इसके बाद साल 2011 को सुप्रीम कोर्ट के आदेश से पद्मनाभस्वामी मंदिर के तहखाने को खोलने के लिए एक टीम बनाई गई। और उन लोगों ने इसमें पूरे 6 तहखाने ढूंढ निकाले। और इनको नाम दिया गया A,B,C,D,E,F और कुछ समय बाद 2 और तहखाने ढूंढ लिया गए, जिसे G और H नाम दिया गया। Padmanabhaswamy Temple Mystery

दोस्तों इसमें से B तहखाने को छोड़कर बाकी सारे तहखाने खोले गए, और उसमें सोने की मूर्तियां, गहने, कई कीमती चीजें मिली। जिनकी कुल कीमत तीन लाख करोड़ थी। लेकिन B तहखाना जिस के दरवाजे पर कोबरा बना हुआ था, उसे नहीं खोला जा सका। क्योंकि जब उस तहखाने का लोहे का दरवाजा खोला गया तो, उसके अंदर एक लकड़ी का दरवाजा निकला। जब उस लकड़ी के दरवाजे को तोड़कर खोला गया तो, उसके अंदर एक और लोहे का भारी दरवाजा था। और उसे खोलने का कोई रास्ता नहीं था। ऐसा लग रहा था जैसे उस दरवाजे को लगाया ही ऐसे गया हो कि, कोई उसे दोबारा खोल ही ना सके। वहां साधुओं से पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि, इस दरवाजे पर ‘नाग बंधम’ लगाया गया है। यानी इसे शक्तिशाली मंत्रों से बंद किया गया है। और इस दरवाजे को सिद्ध पुरुष ही खोल सकते हैं, जो इन मंत्रों की जानकारी रखते हो। अगर इसे ऐसे ही खोलने की कोशिश की गई तो ऐसा संभव नहीं है। हर दरवाजा खोलने पर उसके अंदर एक और दरवाजा निकलते जाएगी, और इसे कभी खोला नहीं जा सकेगा।

वैज्ञानिकों का यह भी मानना है कि इसमे प्राचीन विज्ञान की कोई कड़ी हो सकती है। इसलिए इस में जहरीली गैस भी भरी हो सकती है, और यह जानलेवा भी हो सकती है।  इतने साल बीत जाने के बाद आज तक  बस इस तहखाने को खोलने की बातें ही की जा रही है। क्योंकि भारत को लूटने वाले अंग्रेज एक ऐसे खजाने को हाथ भी नहीं लगा पाए, तो कुछ तो रहस्यमई होगा ही इस तहखाने में। Padmanabhaswamy Temple Mystery

तो दोस्तों आखिर क्या है ऐसा पद्मनाभस्वामी मंदिर के इस तहखाने में? जो वैज्ञानिकों की भी इसे जानने की कोशिसें ठंडी पड़ गई है। तो क्या सच में इसे खोला जा चुका है? पर इसे पूरी दुनिया से छिपाया जा रहा है। और इस तहखाने में ऐसा क्या है? जो इतना बड़ा रहस्य होते हुए भी इसकी सच्चाई सामने नहीं आ पा रही है।

इन सब सवालों का जवाब तो उस तहखाने में ही छुपा हुआ है, लेकिन आज भी इसे देखकर ऐसा नहीं लगता की इन सवालों का जवाब हमें जल्द ही मिल पाएगा।

 

Loading...
If You Like My Post Then Share To Other People

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here