दुनिया के अंत की भविष्यवाणियां Predictions of The End of The World Hindi

Predictions of The End of The World Hindi

Predictions of The End of The World Hindi:यह तो हम सभी जानते हैं कि एक न एक दिन दुनिया का अंत होना तय है ज्यादातर धर्म शास्त्रों में दुनिया का विनाश या प्रलय का जिक्र मिलता है एक दिन इस पूरी दुनिया का विनाश होना है सभी धर्मों और देशों के अनुसार प्रलय के लिए अलग-अलग परिभाषाएं बताई गई है इन्हीं को आधार बनाकर अब तक कई बार दुनिया के विनाश की भविष्यवाणियां की गई लेकिन कयामत का दिन कब आएगा इसकी एकदम सटीक भविष्यवाणी करना लगभग नामुमकिन है Predictions of The End of The World Hindi

भारत की 10 सबसे रहस्यमयी किताबें

जहां धार्मिक ग्रंथों को आधार बनाकर कई भविष्यवक्ताओं ने दुनिया के अंत की भविष्यवाणियां की है वहीं कुछ प्रख्यात वैज्ञानिकों ने वैज्ञानिक आधार लेकर इसका समय बताने का कोशिश की है दोस्तों आज हम अपने इस पोस्ट में आपको बताने जा रहे हैं दुनिया के अंत कि भविष्यवाणियों के बारे में Predictions of The End of The World Hindi जो मानव जाति को हमेशा से डराते आई है इनमें से कुछ का वक्त निकल चुका है लेकिन कुछ अभी भविष्य में दुनिया के खत्म होने का इंतजार कर रही है

लिओनार्दो दा विंची 4006

दूसरे भविष्यवक्ताओं के साथ ही लिओनार्दो दा विंची ने भी दुनिया के अंत की भविष्यवाणी की है. द विंची के अनुसार दुनिया का अंत करने के लिए सन 4006 में एक भयंकर बाढ़ आएगी और सारी दुनिया का सफाया हो जाएगा ‘लिओनार्दो दा विंची’ इतालवी पुनर्जागरण के सबसे बड़े ज्ञाताओं में से एक माने जाते हैं द विंची एक पेंटर, चित्रकार, इंजीनियर, संगीतज्ञ, वैज्ञानिक, गणितज्ञ, आविष्कारक और बहुत कुछ थे. द विंची के मुताबिक दुनिया के खत्म होने की शुरुआत एक भयंकर वैश्विक बाढ़ से 21 मार्च 4006 को शुरू होगी और 1 नवंबर 4006 तक पूरी दुनिया जलमग्न हो जाएगी और इस तरह से दुनिया का खात्मा हो जाएगा द विंची कहते हैं कि इस तरह से धरती पर एक नए जीवन की शुरुआत होगी Predictions of The End of The World Hindi

माया सभ्यता 21 दिसंबर 2012 (Mayan Civilization 21 Dec 2012)

भविष्यवाणी की गई थी कि 2012 में दुनिया का अंत हो जाएगा मेक्सिको के माया सभ्यता के कैलेंडर के हिसाब से यह घोषणा की गई थी, माया सभ्यता की प्रमाणिकता इतनी थी कि उसकी भविष्यवाणी को ज्यादातर लोगों ने सच मान लिया था लेकिन दूसरी भविष्यवाणियों की तरह 2011 में चर्चा में आए यह भविष्यवाणी भी गलत साबित हुई

भारत की सबसे बड़ी कांस्पीरेसी थ्योरी

ऐसा कहा जा रहा था कि माया सभ्यता का कैलेंडर इसी दिन समाप्त हो रहा है माया कैलेंडर में 21 दिसंबर 2012 के बाद तारीख का जिक्र नहीं मिलता कैलेंडर के अनुसार कि यह दिन धरती का आखरी दिन था इस पर यकीन करने वाले कहते हैं की हजारों साल पहले ही अनुमान लगा लिया गया था कि 21 दिसंबर 2012 को धरती पर महाप्रलय आ सकती है यह सभ्यता गणित और खगोल विज्ञान के मामले में बेहद उन्नति थी इस सभ्यता के कैलेंडर में पृथ्वी की उम्र 5126 साल आंकी गई थी

बाबा वंगा Baba Vanga ,5079

बुलगारिया के भविष्यवक्ता बाबा वंगा इन दिनों चर्चा में है बाबा वंगा को बाल्कन के नास्त्रे दमस के नाम से भी जाना जाता है इन्होंने जितनी भविष्यवाणियां की है वे सभी सच हुई है बाबा ने पिछले दिनों फ्रांस और अमेरिका में 9/11 आतंकी हमलों से लेकर सुनामी फुकुशिमा हादसे और ISIS जैसे आतंकी संगठनों के सामने आने की भविष्यवाणियां की थी जो सभी सच निकली लेकिन उन्होंने धरती को लेकर जो भविष्यवाणी की थी वह सच में चौंका देने वाली थी बाबा ने भविष्यवाणी की थी कि सन 5079 में दुनिया खत्म हो जाएगी ऐसा उन्होंने एकदम से नहीं कहा था बल्कि इसके साथ बाबा ने सन 5079 से पहले की शताब्दियों में होने वाली सभी घटनाओं की भविष्यवाणियां भी की थी जिसमें उन्होंने बताया कि अगले सौ सालों में मानव कृत्रिम सूर्य बना लेगा जिसके अगले 200 सालों में हम एलियन सभ्यताओं से मिल पाएंगे
साल 3005 में मंगल ग्रह पर सबसे बड़ा मानव युद्ध होगा और 5079 में दुनिया खत्म हो जाएगी

End Time Prophecies ,29 July 2016

जीवन की रोजमर्रा समस्याओं के बीच एक बार फिर हाल ही में दुनिया के तबाह होने की भविष्यवाणी की गई थी इस भविष्यवाणी के मुताबिक 29 जुलाई 2016 को पूरी दुनिया खत्म होने वाली थी End Time Prophecies नाम के संस्था के भविष्यवाणी के अनुसार यह कहा गया था कि पृथ्वी के चुंबकीय ध्रुव के पलटने से इस आपदा की शुरुआत होगी इससे पहले इस संस्था ने एक और भविष्यवाणी में यह कहा गया था कि इस दिन एक विशाल उल्का पिंड धरती से टकरा सकता है लेकिन किस्मत से ऐसा कुछ नहीं हुआ और धरती यूं ही सुरक्षित बनी हुई है

आइज़क न्यूटन (Isaac Newton) 2060

हम में से ज्यादातर लोग आइज़क न्यूटन को आधुनिक विज्ञान के महान वैज्ञानिकों में से एक मानते हैं वह दुनिया के सबसे प्रभावशाली वैज्ञानिकों में से एक थे पर जहां एक तरफ न्यूटन भौतिक विज्ञान के नियमों को देने के लिए जाने जाते हैं वहीं दूसरी तरफ न्यूटन का झुकाव धर्म शास्त्रों में लिखे दुनिया के अंत की तरफ भी था न्यूटन बाइबल को पढ़ते हुए अपना काफी वक्त यह खोजने में बिताते थे कि आखिर दुनिया का अंत कब होगा बाइबल के अध्ययन के बाद उन्होंने माना की दुनिया का अंत सन 2060 से होना शुरू हो जाएगा
न्यूटन के मुताबिक यह समय रोमन एंपायर के गठन से ठीक 1260 साल के बाद का है इस बात से यह पता चलता है कि न्यूटन के इस थ्योरी के पीछे वैज्ञानिक आधार से ज्यादा धार्मिक विश्वास जुड़ा हुआ था खोज कर्ताओं ने न्यूटन के इस पर लिखे हजारों लेखों का अध्ययन करके पता लगाया की सन 1704 में न्यूटन के लिखे एक लेख में 2060 मैं दुनिया के अंत की भविष्यवाणी की गई है उनके मुताबिक इस वक्त के आसपास आते ही दुनिया के अंत की शुरुआत हो जाएगी

स्टीफन हॉकिंग (Stephen Hawking) Next 1000 Year

सदी के सबसे महान वैज्ञानिक स्टीफन हॉकिंग के अनुसार मानव के पास अपना अस्तित्व बचाने के लिए सिर्फ 1000 साल और बचे हैं ऑक्सफोर्ड में दिए गए एक स्पीच के दौरान स्टीफन ने कहा कि अगले 1000 सालों में धरती का अंत होना तय है उनके हिसाब से हमारी धरती अब इतनी मजबूत नहीं है जो आने वाली भयंकर विपदाओं का सामना कर सके
स्टीफन हॉकिंग ने कहा कि हम टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करके ग्लोबल वार्मिंग, परमाणु हमला, बीमारियों और भयंकर बाढ़ से भले ही बच जाएं पर हम हर बार भाग्यशाली साबित हो यह जरूरी नहीं है स्टीफन के मुताबिक मानव को अगले 1000 सालों में धरती जैसे किसी दूसरे प्लानेट खोज करके वहां बस्तियां बसाने होगी अगर ऐसा नहीं हुआ तो समूचे ब्रह्मांड में अपने जैसी अकेली मानव सभ्यता का अंत होना तय है
दोस्तों आपको हमारा यह पोस्ट Predictions of The End of The World Hindi कैसा लगा अपना सुझाव और निर्देश हमें अपने कमेंट के माध्यम से जरूर बताएं। धन्यवाद ॥

If You Like My Post Then Share To Other People

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here