जॉन अब्राहम और मनोज बाजपेयी की ‘सत्यमेव जयते’ फिल्म रिव्यू

जॉन अब्राहम और मनोज बाजपेयी की सत्यमेव जयते फिल्म रिव्यू Satyameva Jayate Movie Review in Hindi

 Satyameva Jayate Movie Review in Hindi: दोस्तों आज हम रिव्यू करेंगे सत्यमेव जयते का। फिल्म सत्यमेव जयते के लीड रोल में है जॉन अब्राहम, आयशा शर्मा, मनोज बाजपेई और अमृता खानविलकर। इस शानदार फिल्म का डायरेक्शन किया है ‘मिलाप जावेरी’ ने। यह एक फुल-फिल मसाला फिल्म है, जिसमे आपको थ्रिलड, एक्शन और रोमांस सब कुछ देखने को मिलेगा। दोस्तों जिस तरह 90th की मूवी में हम सब देखा करते थे कि एक अकेला इंसान कूद पड़ता है पूरे सिस्टम के खिलाफ लड़ने के लिए। यह फिल्म भी कुछ ऐसे ही है।

फिल्म सत्यमेव जयते की कहानी

वीर यानी जॉन अब्राहम जिसने की करप्शन को खत्म करने का बीड़ा उठाया है। वह जिसके लिए वह बड़े ही स्टाइलिश तरीके से कई सारे मर्डर करता है वह भी सिर्फ पुलिस वालों के। उसके पीछे पड़ा है DCP सूर्यवंश यानी कि ‘मनोज बाजपेई’ जो किसी भी हालत में नहीं चाहता था कि कोई क्रिमिनल कानून हाथ में लेकर मर्डर करता रहे। बस यही चूहे बिल्ली का खेल इन दोनों के बीच चलता रहता है। फिल्म का स्क्रीनप्ले बहुत ही टाइट है, जो कहीं भी आपको रिलैक्स होने का मौका नहीं देगा। इसके अलावा इस फिल्म में कुछ बेहतरीन डायलॉग्स भी सुने जा सकते हैं।

सत्यमेव जयते में एक्टिंग

वैसे तो जॉन अब्राहम एक एक्शन हीरो के तौर पर जाने जाते हैं लेकिन ‘परमाणु’ जैसे संविदा फिल्में कर लेने के बाद उन्होंने अपनी एक्टिंग के कुछ और रंग दिखाने भी शुरू कर दिए है। इस फिल्म के जरिए वह वापस अपने पुराने फार्म में नजर आते हैं। एक्शन हीरो के रूप में वह इस फिल्म में बहुत फिट बैठते हैं। कुछ अनरीयलिस्टिक सीन भी उन पर फिट बैठता है, क्योंकि उनकी कद काठी कुछ इस तरह की है की एक्शन करते हुए वह फेक नहीं लगते हैं।

एक्टिंग की बात करें तो जॉन अब्राहम अब एक फुल फ्लैश एक्टर बन चुके हैं। एक्शन फिल्म वह कर सकते हैं यह उन्होंने अपनी पिछली फिल्मों से साबित कर दिया है। इसके अलावा परमाणु जैसी फिल्म करने के बाद उन्होंने यह भी साबित किया है कि वह संजीदा रोल भी आसानी से कर सकते हैं। और अब वापस इस फिल्म में एक्शन करने के साथ-साथ उन्होंने अपनी एक्टिंग में एक बैलेंस बनाकर रखा है, जिसे पूरी फिल्म के दौरान उन्होंने कहीं भी ओवर(ज्यादा) होने नहीं दिया है। रोमांटिक, एक्शन, सीरियस हर तरह के रोल में जॉन अब्राहम काफी सहज नजर आते हैं।

आयशा शर्मा की यह डेब्यू फिल्म है और शायद आपको पता होगा की एक्ट्रेस ‘आयशा शर्मा’ ‘नेहा शर्मा; की बहन है। वैसे तो हेरोईजम वाले फिल्म में फीमेल एड्रेस के पास ज्यादा कुछ करने को होता नहीं है, और उसमें भी जब लीड एक्टर के साथ-साथ फिल्म में मनोज बाजपेई जैसा दिग्गज कलाकार हो तो फिर फीमेल एक्ट्रेस अपने एक्टिंग के सारे रंग फिल्म में नहीं दिखा पाती है। बट फिल्म में जितना भी उनका रोल है वह अच्छा है।

बात करते हैं मनोज बाजपेई की, तो मनोज बाजपेई फिल्म इंडस्ट्री के उन चुनिंदा कलाकारों में से हैं जिनकी एक्टिंग पर कोई भी उंगली नहीं उठा सकता। यहां भी उनकी एक्टिंग में वही बारीकी नजर आती है जो उनकी दूसरी फिल्मों में देखने को मिलता है। मनोज बाजपेई के डायलॉग डिलीवरी मे जो ठहराओ है, सही जगह पर पौज लेकर डायलॉग्स को बोलने की जो कला है, वह अद्भुत है। हालांकि इस फिल्म में मनोज बाजपेई और जॉन अब्राहम का मकसद एक ही दिखाया गया है, लेकिन दोनों के रास्ते अलग अलग है।

इस फिल्म का एक्शन अच्छा है जैसा कि मैंने आपको पहले ही बताया। कुछ आन-रियलिस्टिक सींस जरूर है, लेकिन एक प्रॉपर मसाला फिल्म में इतना तो चल ही सकता है। इस फिल्म का टोटल लेंथ 2 घंटे 20 मिनट है, जो कि मेरे हिसाब से फिल्म की स्क्रिप्ट को देखते हुए ठीक है।
फिल्म सत्यमेव जयते का बैकग्राउंड म्यूजिक एवरेज है। बहुत डिफरेंट किस्म का या फिर कैंची किस्म का बैकग्राउंड म्यूजिक नहीं है। इस फिल्म के म्यूजिक की बात करें तो इस फिल्म में म्यूजिक दिया है साजिद-वाजिद, तनिष्क बागची, और रोचक कोहली ने

इस फिल्म का “दिलबर-दिलबर” सॉन्ग तो धमाल मचा ही चुका है। इस सॉन्ग को गया है ‘नेहा कक्कड़’ ने । फिल्म के बाकी गाने भी ठीक-ठाक हैं। एक बात अजीब जरूर है कि फिल्म का नाम है सत्यमेव जयते और फिल्म के प्रमोशन में भी इसे एक देशभक्ति फिल्म बताया गया है, इसके बावजूद भी इसमें एक भी देश भक्ति सॉन्ग नहीं है। जो एटलीस्ट मैंने एक्सपेक्ट नहीं किया था।

यह फिल्म ‘सत्यमेव जयते’ रियलिटी के बहुत ज्यादा करीब तो नहीं है, लेकिन फिर हम पैसा खर्च क्यों करते हैं। एंटरटेनमेंट के लिए जो कि इस फिल्म में भर भर के हैं। मतलब कि आपको ज्यादा दिमाग खर्च करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। यह इत्तेफाक की बात है कि इस बार 15 अगस्त पर दो-दो देशभक्ति की फिल्म रिलीज हुई है। और दोनों की दोनों फिल्मी फ्राइडे को रिलीज ना होकर वेडनेसडे को रिलीज हो रही है।

अंत में इतना ही कहेंगे यह फिल्म आपको इंटरटेन तो जरूर करेगी,और साथ ही आपको एक मैसेज भी देगी, और आपका सर भारी किए बगैर आपको घर भेजेगी। दोस्तों मैं इस फिल्म को दूंगा 3.5 स्टार। उम्मीद करते हैं आपको हमारा यह पोस्ट “Satyameva Jayate Movie Review in Hindi” पसंद आया होगा। अगर आपको हमारा पोस्ट पसंद आता है तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिए। धन्यवाद॥

If You Like My Post Then Share To Other People

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here